सफलता सकारात्मकता से आती है और यह भी एक सुखद संयोग और ईश्वर की इच्छा है कि आप इस जानकारी को देख रहे हैं जो कि ईश्वर का धन प्राप्ति एवं सुख समृद्धि के लिए सुझाया गया मार्ग है ईश्वर आपको धन देने के लिए स्वयं तो नहीं आ सकता किंतु वह अप्रत्यक्ष रूप से मार्ग प्रशस्त जरूर करता है आपका यहां इस वेबसाइट पर होना और घर बैठे लक्ष्मी कमल एवं विष्णु कमल जैसे पौधों का पहुंच जाना भी एक दुर्लभ संयोग है ,नहीं तो आप अपने सभी दोस्तों और रिश्तेदारों के यहां पता करो कितने लोगों के पास इसकी जानकारी है और कितने लोगों के पास यह उपलब्ध है।

 

यह पौधा जो आप देख रहे हैं बहुत ही चमत्कारी पौधा है इस पौधे को घर में विधि विधान के साथ लगाने में आपको निश्चित ही विशेष फल प्राप्त होगा जो आपकी धन के कारण होने वाले रुकावट को दूर करेगा और आप के लिए धन प्राप्ति के नए आयाम खोलेगा | यदि आपके घर में पैसा नहीं रुकता तो वह भी रुकने लगेगा ।
इस पौधे को लगाने के कुछ समय बाद ही आपको यह महसूस होगा कि आपके घर में पैसे का आना शुरू हो गया और धन प्राप्ति के नए-नए मार्ग प्रशस्त होना शुरू हो जाएगे।




इस पौधे को लगाने से घर में वास्तु दोष दूर होता है यदि आप किसी के कोर्ट केस से परेशान हैं तो लक्ष्मी कमल के पौधे के साथ अपराजिता का पौधा जरूर लगाएं।

इस पौधे को उत्तर पूर्व दिशा यानी कि ईशान कोण में लगाएं या अपने पूजा स्थान के पास ही रखें कुछ ही दिनों में या पौधा असर दिखाना शुरू कर देगा यह पौधा धन ही प्रदान नहीं करता साथ ही घर में सुख शांति और समृद्धि को भी बरकरार रखता है ।

इस पौधे को लगाने से आपकी धन संबंधी परेशानियां दूर हो जाती है क्योंकि इसमें लक्ष्मी जी का वास है ।

________________

1. लक्ष्मी कमल के पौधों के साथ विष्णु कमल का पौधा फ्री और साथ में मार्गदर्शिका भी मुफ्त प्राप्त करें
2. यह पौधा विशेष मुहूर्त में लगाया गया है और यह मंत्रोच्चारित है।
3. यह पौधा यह दुर्लभ पौधा क्षीरसागर – मानसरोवर की तलहटी में ही पाया जाता है।
4. पौधों का यहां जोड़ा लक्ष्मी – विष्णु कमल आपके दर्शन मात्र से आपके घर में सुख शांति और समृद्धि लाता है।

Visit – http://laxmikamal.in
Call – 8878031140

धन और संपत्ति की अधिष्ठात्री देवी हैं – माँ लक्ष्मी. माना जाता है समुद्र से इनका जन्म हुआ था, और इन्होने श्री विष्णु से विवाह किया था. इनकी पूजा से धन की प्राप्ति होती है साथ ही वैभव भी मिलता है. अगर लक्ष्मी रुष्ट हो जाएँ तो घोर दरिद्रता का सामना करना पड़ता है. ज्योतिष में शुक्र ग्रह से इनका सम्बन्ध जोड़ा जाता है.

धन और संपत्ति की अधिष्ठात्री देवी हैं – माँ लक्ष्मी. माना जाता है समुद्र से इनका जन्म हुआ था, और इन्होंने श्री विष्णु से विवाह किया था. इनकी पूजा से धन की प्राप्ति होती है साथ ही वैभव भी मिलता है. अगर लक्ष्मी रुष्ट हो जाएँ तो घोर दरिद्रता का सामना करना पड़ता है. ज्योतिष में शुक्र ग्रह से इनका सम्बन्ध जोड़ा जाता है.

इनकी पूजा से किन किन फलों की प्राप्ति होती है?

– इनकी पूजा से केवल धन ही नहीं बल्कि नाम यश भी मिलता है

– इनकी उपासना से दाम्पत्य जीवन भी बेहतर होता है

– कितनी भी धन की समस्या हो अगर विधिवत लक्ष्मी जी की पूजा की जाय तो धन मिलता ही है

माँ लक्ष्मी की पूजा के नियम और सावधानियां क्या हैं?

– माँ लक्ष्मी की पूजा श्वेत या गुलाबी वस्त्र पहन कर करनी चाहिए

– इनकी पूजा का उत्तम समय होता है – गोधूली वेला या मध्य रात्रि

– माँ लक्ष्मी के उस प्रतिकृति की पूजा करनी चाहिए जिसमे वह गुलाबी कमल के पुष्प पर बैठी हों

– साथ ही उनके हाथों से धन बरस रहा हो

– माँ लक्ष्मी को गुलाबी पुष्प विशेषकर कमल चढ़ाना सर्वोत्तम होगा

– माँ लक्ष्मी के मन्त्रों का जाप स्फटिक की माला से करने पर वह तुरंत प्रभावशाली होता है

माँ लक्ष्मी की कृपा पाने के (धन पाने के) विशेष प्रयोग

व्यवसाय में लाभ पाने के लिए क्या करें?

– व्यवसाय के स्थान पर लक्ष्मी जी , गणेश जी और विष्णु जी की स्थापना करें

– लक्ष्मी जी के दाहिनी ओर विष्णु जी की और बाएँ ओर गणेश जी को स्थापित करें

– नित्य प्रातः काम शुरू करने के पहले उनको एक गुलाब का फूल चढाएँ

– घी का दीपक और गुलाब की सुगंध वाली धूप जलाएँ

नौकरी में धन पाने के लिए क्या करें?

– पूजा के स्थान पर कमल के फूल पर बैठी हुई लक्ष्मी जी के चित्र की स्थापना करें

– इस चित्र में अगर दोनों तरफ से हाथी सूंढ़ में भरकर जल गिरा रहे हों तो और भी उत्तम होगा

– इस चित्र के सामने सायंकाल घी का दीपक जलाएँ , और माँ को इत्र अर्पित करें

– रोज शाम पूजा की समाप्ति के बाद तीन बार शंख जरूर बजाएँ