22Feb

पूजा में लक्ष्मी कमल एवं विष्णु कमल के पौधे का महत्व

चित्रकूट ,
दीपावली के दिन मां लक्ष्मी की पूजा करने की परम्परा सदियों से चली आ रही है। मां लक्ष्मी की पूजा तो हर कोई करता है लाई-बताशा, मिठाई सहित कई तरह की सामग्री अर्पित कर पूजा की जाती है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण मां लक्ष्मी की पूजा में कमल का पुष्प होता है। बिना कमल के पुष्प के मां लक्ष्मी की पूजा अधूरी मानी जाती है। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक मां लक्ष्मी जब उत्पन्न हुई थीं, तब कमल का पुष्प हाथों में रखे हुए थीं।
ज्योतिषाचार्य एवं वास्तुविद पंडित गजेंद्र कामर्थी शास्त्री ने बताया कि लक्ष्मी मां की पूजा का विधान सभी को पता है, लेकिन पुराणों के मुताबिक जब समुद्र मंथन हुआ तब मां लक्ष्मी समुद्र से उत्पन्न हुई थीं। उनके हाथों में कमल का फूल था। साथ ही वह कमल के फूल पर ही बैठी हुई थीं। इसलिए मां लक्ष्मी की पूजा में कमल के पुष्प को महत्वपूर्ण माना गया है। कमल का पुष्प कीचड़ में उत्पन्न होता है, लेकिन वह अपने सुंदरता के कारण अलग पहचान बनाए हुए है। उसी तरह मनुष्यों को भी इस कर्म भूमि में अच्छे कर्म करते हुए अपना स्थान प्रभु के हृदय में बनाने का प्रयास करना चाहिए।

हर बार करें मां लक्ष्मी को पुष्प अर्पित-

शास्त्री जी ने बताया कि आज के युग कमल का पुष्प प्रतिदिन मिल पाना संभव नहीं है , इसलिए शास्त्रों में वर्णन है कि लक्ष्मी कमल एवं विष्णु कमल के पौधे को लक्ष्मी जी के समक्ष रखने मात्र से कई हजारगुना फल प्राप्त होता है .

यह पौधा जो आप देख रहे हैं बहुत ही चमत्कारी पौधा है इस पौधे को घर में विधि विधान के साथ लगाने में आपको निश्चित ही विशेष फल प्राप्त होगा जो आपकी धन के कारण होने वाले रुकावट को दूर करेगा और आप के लिए धन प्राप्ति के नए आयाम खोलेगा | यदि आपके घर में पैसा नहीं रुकता तो वह भी रुकने लगेगा ।
इस पौधे को लगाने के कुछ समय बाद ही आपको यह महसूस होगा कि आपके घर में पैसे का आना शुरू हो गया और धन प्राप्ति के नए-नए मार्ग प्रशस्त होना शुरू हो जाएगे।

इस पौधे को लगाने से घर में वास्तु दोष दूर होता है यदि आप किसी के कोर्ट केस से परेशान हैं तो लक्ष्मी कमल के पौधे के साथ अपराजिता का पौधा जरूर लगाएं।

इस पौधे को उत्तर पूर्व दिशा यानी कि ईशान कोण में लगाएं या अपने पूजा स्थान के पास ही रखें कुछ ही दिनों में या पौधा असर दिखाना शुरू कर देगा यह पौधा धन ही प्रदान नहीं करता साथ ही घर में सुख शांति और समृद्धि को भी बरकरार रखता है ।

– वैसे तो मां लक्ष्मी को कमल के साथ ही गेंदा, मदार जैसे पुष्प अर्पित किए जा सकते हैं, लेकिन इन सब के साथ माता को कमल का पुष्प अवश्य अर्पित करना चाहिए। यदि कोई भी पुष्प नहीं है तो एेसे में सिर्फ कमल का पुष्प अर्पित करने मात्र से ही मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।